ABVP Full Form In Hindi

ABVP full form in Hindi ? ABVP क्या है ? ABVP की फुल फॉर्म क्या है? ABVP क्या करती है ? ABVP कब और किसने शुरू किया ? ABVP के किये हुए काम ? ABVP के उद्देश्य क्या है ?

दोस्तों आपने कई बार न्यूज़ चैनल, अखबार और कई लोगों के मुँह से ABVP के बारे में सुना होगा। ज़रूर आपके मन में एक खयाल आता होगा की ये आखिर है क्या ? कोई पार्टी ? कोई परिषद् ? कोई कॉउन्सिल ? या फिर कोई कम्युनिटी ?

आज इस ब्लॉग के ज़रिये हम आपके सारे सवालो का उत्तर आप तक पहुचाएंगे। ABVP से जुडी हर महत्वपुर्ण जानकारी आज आपको इस आर्टिकल में देखने को मिलेगी। उनके काम, उनके उदेशय, आदि सब हम आपको आज बताने जा रहे है। 

तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं पूरी जानकारी के साथ । 

ABVP  क्या है ? 

दोस्तों ABVP भारत का सबसे बड़ा छात्र संगठन है।  यह भारत की सारी स्टूडेंट कॉउन्सिलस का राइट विंग है। यह छात्रों और उनसे जुडी सभी समस्याओ का समाधान निकालने में उनकी मदद करता है। 

रिपोर्टस के अनुसार ये 3 मिलियन(3,000,000) छात्रों का संगठन है।  उनके उद्देश्य विश्वविद्यालय व स्कूल्स में बच्चो व उन्हें दी गयी सुविधाओं का सुधार करना है। छात्रों की भलाई  के लिए इन्होने बहुत सारे सामाजिक कार्य किये है। आप भी अगर इस संगठन का हिस्सा बनना चाहते है तो ABVP की वेबसाइट पे जाके अपने आप को रजिस्टर कर सकते है। 

दोस्तों इतना ही नहीं ABVP एक ऐसा संगठन है जो की छात्रों की हर समस्या का हल भी निकलता है और उनकी पूरी सहायता भी करता है । दोस्तों हमारे देश में ऐसे ही संगठन की सख्त जरूरत है ताकि आने वाले समय में विधयार्थियों को किसी भी प्रकार के समस्या न झेलनी पड़े । 

ABVP की फुल फॉर्म क्या है ?

ABVP full form in HINDI 

तो दोस्तों सबसे पहले हम ये जानते है की ABVP की फुल फॉर्म आखिर है क्या? ABVP की फुल फॉर्म है :

A – AKHIL 

B – BHARTIYA

V – VIDYARTHI 

P – PARISHAD 

 दोस्तों इस परिषद का पूरा नाम “अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद्” है जिसे अंग्रेजी में “All India Student Council ” कहते है। 

ABVP के कार्य ?

एबीवीपी को पूरे वर्ष विश्वविद्यालय और कॉलेज कैम्पोस में कई सामाजिक कार्यों और छात्र कल्याण कार्यक्रमों के लिए जिम्मेदार बनाया गया है, जैसे की : रक्तदान शिविर, स्वतंत्रता दिवस का उत्सव, राष्ट्रीय युवा दिवस, शिक्षक दिवस आदि।

ABVP छात्रों में ” पूर्ण विकास और सस्टेनेबल डेवलपमेंट “ की आवश्यकता के प्रति सही प्रेरणा को बढ़ावा देता है। देश भर के विश्वविद्यालों में ABVP स्टूडेंट कॉउन्सिल के एलेक्शंस में भाग लेती है। ABVP ने  स्टूडेंट कॉउन्सिल एलेक्शंस के द्वारा कई प्रमुख विश्वविद्यालयों पर नियंत्रण प्राप्त कर लिया है, जिसमे दिल्ली विश्वविद्यालय भी शामिल है। 

ABVP की स्थापना ?

ABVP की स्थापना 1  जुलाई, 1949  को हिन्दू नेशनलिस्ट, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ( RSS ) कार्यकर्ता बलराज मधोक जी के द्वारा की गयी थी। मुंबई के प्रोफेसर यशवंत राओ केलकर जी इसके मुख्य ऑर्गनिज़र बने। इस विद्यार्थी परिषद का नारा है – ज्ञान, शील और एकता। आज विद्यार्थी परिषद् न केवल भारत का बल्कि विश्व का सबसे बड़ा छात्र-संगठन है।

यशवंत राओ केलकर ने 1958 में  इस आर्गेनाईजेशन का निर्माण किया और उन्हें ही  ABVP का  ” रियल आर्किटेक्ट ” माना जाता है। 

ABVP द्वारा किये गए कार्य ?

ABVP की कई सारी शाखाए 1961 से ही हिन्दू – मुसलमान के सामुदायिक झगडे में भाग लेती आयी है। हालांकि 1970s  से उन्होंने लोअर मिडिल क्लास लोगों के परेशानी के मुद्दे जैसे भ्रष्टाचार और उनके अधिकारो के लिए बहुत से अभियान और रैली चालू की। 

1970s में हुए ” JP मूवमेंट “ में बहुत बड़ा हाथ ABVP  का था। इस मूवमेंट ने गुजरात और बिहार के छात्रों को एक जुट कर दिया था। ऐसे ही आंदोलनों की वजह से ABVP,  देश में इमरजेंसी के बाद से काफी ज्यादा प्रसिद्ध हो गया। और उसकी मेमबरशिप में भी काफी बढ़ाव आया।  

ABVP के शुरू किए हुए पहल : 

  1.  मिशन साहसी – ABVP पूरे भारत में  लड़कियों के लिए सेल्फ डिफेन्स कार्यक्रम, ”  मिशन साहसी ” के ​​नाम  से आयोजित करता है।
  1. मिशन आरोग्य – ABVP ने COVID -19 के लक्षणों के लिए दिल्ली की 100 से अधिक स्लम्स में घर-घर जाकर स्क्रीनिंग की और लोगों को टीकाकरण के लिए पंजीकरण करने के लिए प्रोत्साहित किया।

 अच्छे कामो के साथ ही ABVP ने एक गलत काम भी किया है।  5 जनवरी 2020 को नकाबपोश एबीवीपी सदस्यों ने JNU के छात्रों पर हमला किया, कारों को तोड़ दिया और पथरबाज़ी की, जबकि एबीवीपी ने लेफ्ट विंग संगठनों पर आरोप लगाया। हलाकि बाद में ABVP ने नेशनल मीडिया पे अपना अपराध स्वीकार किया। इस हमले में JNU के 28 लोग ( प्रोफेसर व स्टूडेंट्स ) घायल हुए थे। 

ABVP का उद्देश्य ?

स्वतंत्रता प्राप्ति के समय पुराणी परम्पराओ और  गौरव को ध्यान में रखते हुए हमारे राष्ट्र को एक आधुनिक एवं विकसित राष्ट्र बनाने का सपना देखा, जो सभी बाधाओं और कमियों से मुक्त हो। इस सपने को साकार करने के लिए,  दृढ  विश्वास से प्रभावित कुछ युवाओं ने देश भर के कॉलेज और विश्वविद्यालय परिसरों में केंद्रित यह आंदोलन शुरू किया।

राष्ट्रीय पुनर्निर्माण के उद्देश्य से एबीवीपी ने एक राष्ट्रव्यापी छात्र संगठन के रूप में अपनी मल्टी डायमेंशनल और विविध आंदोलनों की शुरुआत की, जो सामाजिक स्पेक्ट्रम के हर पहलू को छूती है।

निष्कर्ष:

दोस्तों आज के आर्टिकल में हमें पता चला की ाब्वप ने ७० सालो में देश के छात्रों और इस देश के विकास के लिए कितने सम्माननिये कार्य किये है। आये दिन अलग – अलग आंदोलनों के ज़रिये ाब्वप ने विकास कार्यो में बहुत जोश दिखाया। यह हमारी आज की पीड़ी को प्रोत्साहित करती है की वह भी अपने देश के उथ्थान के लिए भिन्न – भिन्न प्रकार के कार्य करें।

हालांकि ABVP  ने जो जनवरी 2020 में किया, वह काफी निंदाजनक था। कितनी भी बड़ी संस्था हो ऐसे पथरबाज़ी करने का कोई हक़ नहीं है उनका। और इस बात से तो हम सब राज़ी होंगे की कोई भले ही 100 अचे काम करके प्रसिद्ध हुआ है, मगर एक गलत काम ही काफी होता है, उनकी इमेज को नुकसान पहुंचने के लिए। 

पर उसके बाद से ऐसे कोई वारदात अभी तक सामने नहीं आयी है, और ABVP  ने अपने अच्छे कामो को ज़ारी रखा हुआ है। दोस्तों आशा करते है हम आपके सारे सवालो का उत्तर आप तक पंहुचा पाए होंगे।  

आज आपने क्या सीखा ?

1. ABVP  क्या है ? 

2. ABVP की फुल फॉर्म क्या है ?

3. ABVP के कार्य ?

4. ABVP की स्थापना ?

5. ABVP द्वारा कीये गए कार्य ?

6. ABVP का उद्देश्य ?

Leave a Comment