CAB Full Form In Hindi ? 2022 में इन देशों को मिलेगी भारतीय नागरिकता ? (In Detail)

CAB Full Form In Hindi ? CAB क्या है ? cab को कब बनाया गया ? cab को किसने बनाया ? cab किन देशों के लिए लागू है ? cab किन धर्मों के लिए बनाया गया है ? 

दोस्तों यदि आप रोजाना समाचार सुनते हैन और हमारे भारत देश के सभी धर्मों के बारे में अच्छे से जानते हैन तो आपने cab का नाम जरूर सुन होगा । 

दोस्तों cab क्या है और कब इसको बनाया गया ये आप भी जानना चाहते होंगे । तो दोस्तों आज हम आपको इसी बारे में बताने वाले हैं ।

तो दोस्तों आज हम आपको CAB Full Form ? CAB Kya Hai ? Amendment of CAB ? जैसी सभी जानकारी देने वाले हैं । तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं CAB Full Form In Hindi । 

CAB क्या है ? What Is CAB Bill ? 

दोस्तों cab एक बिल है जो की भारत के सभी नियम और कानून को ध्यान में रख कर बनाया गया है । दोस्तों cab एक इस प्रकार का बिल है। . 

जो की भारत में रहने वाले कुछ धर्म के व्याकतीतों को नागरिकता दिलाने के लिए बनाया गया है । दोस्तों cab एक तरीके का संशोधन विधेयक है। 

दोस्तों इस संशोधन विधेयक के जरिए भारत के कुछ पड़ोसी मुस्लिम देशों में रह रहे गैर मुसलमानों को भारतीय नागरिकता दिलाई जाती है । 

दोस्तों यह बिल अ देशों में रह रहे नागरिकों पर धर्म के नाम पर उत्पीड़न करने के कारण पास किए गया है । इसका उद्देश्य पड़ोसी देशों में धर्म के नाम पर हो रहे अत्याचारों से बचाना है । 

दोस्तों भारत सरकार द्वारा पास किया जाने वाला यह बिल मुस्लिम धर्म को छोड़कर अन्य धर्मों को व्यक्तियों को भारत की नागरिकता प्रदान करता है । दोस्तों यह बिल Citizenship Act 1955 को संशोधित करने के बाद बनाया गया है । 

दोस्तों भारत में पहले नागरिकता पाने के लिए  आवेदक को बीते 12 महीने से भारत में रहना अनिवार्य था और बीते हुए 14 वर्षों में 11 वर्ष तक भारत रहना भी अनिवार्य था ।

 परंतु दोस्तों इस बिल के पास होने के बाद सभी नियम और कानों को बदल दिया गया है । अब इस इस बिल के जरिए भारत की नागरिकता पाना बहोत आसान है । 

दोस्तों इस संशोधक विधेयक के जरिए अब उस 11 वर्ष की सीमा को हटा कर 5 वर्ष कर दिया गया है । परंतु दोस्तों अब इस बिल में यह भी बताया गया है की आवेदक का नीचे बताए गए 3 देशों में से की एक देश से तालुक हों भी अनिवार्य है ।

दोस्तों वर्त्म कानों के तहत भारत की नागरिकता केवल भारत में जन्मे व्यक्ति और 11 वर्ष से भारत में रहने वाल व्यक्तियों को ही दी जाती है । 

तो दोस्तों CAB Kya Hai ये तो आप जान ही गए होंगे तो अब दोस्तों हम आपको बताएंगे की CAB Full Form क्या है ? तो चलिए जान लेते हैं CAB Full Form In Hindi ।  

CAB Ka Full Form ? इसका मतलब क्या है ?

दोस्तों CAB का पूरा नाम क्या है तो हम आपको अभी बताने वाले हैं तो दोस्तों CAB Ka Full Form Hai ?

C – CITIZEN 

A – AMENDMENT 

B – BILL 

CAB Full Form In Hindi ?

दोस्तों कब का पूरा नाम “citizen amendment bill” है और इसे हम हिन्दी में “नागरिक संशोधक विधेयक” भी कहा जाता है । 

CAB Amendment ? यह कब बनाया गया ?

दोस्तों cab को बने हुए कुछ ज्यादा व्यक्त नहीं हुआ है । दोस्तों कब को 11 december 2019 में ही पारित किया गए था दोस्तों इस संशोधक विधेयक को राज्यसबह द्वरा पारित किया गए था । 

दोस्तों 6 घंटों चलने वाली लंबी बैठक और कई सवाल जवाब होने के बाद इस विधेयक पर फैसला लिया गया था । 

दोस्तों cab को भारत के 224 सांसदों में से लगभग 125 सांसदों ने संशोधक विधेयक के पक्ष में और लगभग 99 सांसदों ने इसके विपक्ष में मतदान किया । 

दोस्तों भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने इस विधेयक पर फैसला सुनयने के लिए 6 घंटे का व्यक्त राज्यसभा को दिया था । 

दोस्तों भारतीय जनता पार्टी के साथ साथ cab को अन्य कई पार्टियों ने भी समर्थन दिया । नागरिकता बिल 9 दिसम्बर 2019 को 80 के मुकाबले 311 वोटों के समर्थन से लोकसभा द्वारा पारित किया गया था । 

CAB Countries ? यह किन देशों में लागू ?

दोस्तों कब को भारत के पड़ोसी मुस्लिम देश यानि की पाकिस्तान , अफगानिस्तान और बांग्लादेश पर लागू किया गया है ।

 दोस्तों यदि इन देशों में कोई भी गैर मुस्लिम व्यक्ति है और वह धर्म के आधार पर उत्पीड़न का शिकार है तो वह 6 साल भारत में रहकर भारतीय नागरिकता ले सकता है । 

दोस्तों पाकिस्तान , अफगानिस्तान और बांग्लादेश तथा अन्य कई देशों से भारत आए गैर मुस्लिम व्यक्तियों को भारत की नागरिकता प्रदान की जाएगी । और भारत में रहने का पूरा अधिकार भी दिया जाएगा ।

 मुसलमानों के लगातार सवालों का उत्तर भी गृह मंत्री अमित शाह ने दिया की अन्य मुसलमानों को भी भारत में रह सकते हैं । 

दोस्तों इन देशों के  हिन्दू , ईसाई  , बौद्ध , सिख , पारसी और जैन धर्मों के व्यक्तियों को भारत में नागरिकता देने के लिए यह बिल पारित किया गया था ।

 दोस्तों भारत में कुछ राज्यों मैं आज भी यह संशोधिक विधेयक लागू नहीं किया गया है । यानि आज भी कुछ राज्यों में इन देश के धर्मों को नागरिकता नहीं दी जाती है । 

दोस्तों भारत के संविधान की छटी अनुसूची में शामिल होने के कारण असम , मेघालय , त्रिपुरा और मिजोरम के आदिवासी छेत्रों पर यह लागू नहीं होता है । 

तथा बंगाल ईस्टर्न फ़्रंटियर रेग्युलेशन 1873 के तहत अनुसूचित इनर लिमिट में आने वाले वाले छेत्र भी दायरे के बाहर होंगे । 

मिलता झूलता :

ALU FULL FORM

PBKS FULL FORM

RO FULL FORM

BFA FULL FORM

VIVA FULL FORM

Summary :

दोस्तों आज के हमारे इस आर्टिकल CAB Full Form में हुमने आपको बाते की  cab एक संशोधिक विधेयक है जो भर के पड़ोसी मुस्लिम देश और ने कई देशों के रहने वाले हिन्दू , ईसाई , सिख , जैन , बौद्ध , और पारसी धर्मों के व्यक्तियों को नागरिकता दिलाता है । 

दोस्तों इसके अलावा हुमने आपको यह भी बताया की CAB Full Form Kya Hota Hai ? इसका पूरा नाम नागरिक संशोधिक विधेयक है जो की 11 दिसम्बर 2019 को बनाया गया था । 

इस बिल को पारी करने के लिए लोकसभा में 6 घंटों की काठी बातचीत की गई थी उसके बाद ही इसको पारित किया गया था 

दोस्तों CAB Kya Hai ? CAB Full Form ? CAB Amendment और CAB से जुड़ी सभी जानकारी हुमने आज अको दी है । 

दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आको हमारा आज का आर्टिकल CAB Full Form In Hindi पसंद आया होगा और अको अपने सभी सवालों के जवाब आसानी से मिल गए होंगे । 

FAQ :-

Ques – 1

CAB Full Form ? 

Ans – Citizen Amendment Bill 

Ques – 2

CAB Formation ?

Ans – 11 december 2019 

Ques -3 

CAB Implemented Countries ?

Ans – Pakistan , Afghanistan and Bangladesh

 

Leave a Comment